चिदंबरम ने फोड़ा तिहाड़ में बौंम्ब। - FakeTalks
Technology 📱

चिदंबरम ने फोड़ा तिहाड़ में बौंम्ब।

दिल्ली – गोपनीय सूत्रों से मिली खबर के अनुसार आज तिहाड़ में परमाणु बम फूटा, मगर इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। इस खबर ने कांग्रेस की नींव हिला कर रख दी है, इस खबर के बाद आम आदमी पार्टी में उम्मीदों की सुनामी आ गई है, मगर बीजेपी पार्टी कार्य कार्यालय से ने इस खबर को नकार दिया है।

यह घटना आज दोपहर में हुई जब सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह के साथ पी चिदंबरम से मिलने तिहाड़ जेल पहुंची। बातों बातों में चिदंबरम ने कहा कि मैं अभी तक जेल में बंद होने से हैरान हूं, सोनिया जी ने आश्वस्त किया है कि वह चिदंबरम को जेल से निकालने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।
गोपनीय सूत्रों के अनुसार चिदंबरम ने कहा है कि: अगर मोदी जानते है कि मैंने 305 करोड रुपए का गमन, आज से 12 साल पहले ही कर दिया था। मगर फिर भी मुझे अपने मंत्रिमंडल में शामिल करने की जगह जेल में रखे हुए हैं?

चिदंबरम ने मायूस होते हुए कहा कि अगर मोदी सरकार ने मुझे अपने मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया होता, तो मैं 62.7 बिलियन डॉलर के रफाल जेट में…. मोदी सरकार को कम से कम 60 बिलियन डॉलर कमीशन में दिलवा देता।

पूर्व वकील से नेता बने चिदंबरम को सांत्वना देते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि, तुम जैसे हीरे की कदर तो सिर्फ हम जैसे जोहरी ही कर सकते हैं। शायद आप हमारी बात पर यकीन ना करें… मगर हमारे सूत्रों के अनुसार यह खबर बिल्कुल सच्ची है कि सोनिया गांधी की सांत्वना देने के बाद, मनमोहन सिंह जी ने कहा कि ‘मैडम जी आप बिल्कुल ठीक कह रही हैं’। जी हां मनमोहन सिंह जी बिना सक्रिप्ट पड़े यह 8 शब्द बोले थे।

कांग्रेस पार्टी में गडर का माहौल है अगर चिदंबरम चले गए ना जाने कौन-कौन से गड़े हुए मुर्दे बाहर आ जाएंगे। आम आदमी पार्टी में उत्साह की लहर नहीं सुनामी दौड़ रही है, सबको उम्मीद है कि बढ़िया ऑफर दिया जाए तो चिदंबरम पार्टी जॉइन कर लेंगे।

हमेशा की तरह बीजेपी ने इसमें भी कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई है, और लगता है कि शायद इस मोहरे को भी अपनी टीम में शामिल करना नहीं चाहते। अब देखना यह है की इस परमाणु बम की पिन निकाल कर, भारत की विरोधी राजनीतिक पार्टियों के साथ मोदी कौन सा मजाक कर रहे हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close